Rajasthan Free Mobile Yojana: गहलोत सरकार की चौथी वर्षगांठ पर तोहफा

Rajasthan Free Mobile Yojana

यदि आप राजस्थान फ्री मोबाइल योजना के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी एकत्रित करना चाहते हैं तो आप बिल्कुल उचित स्थान पर आए हैं. क्योंकि आज के इस पोस्ट में हम सभी लोग राजस्थान फ्री मोबाइल योजना के विषय में आवश्यक जानकारियां साझा करने वाले हैं.

हमारे देश के एक राज्य राजस्थान में महिलाओं को फ्री मोबाइल सरकार की और से चौथी वर्षगांठ के शुभ अवसर पर देने की तैयारियां की जा रही है.

अनुमान लगाया जा रहा है कि दिसंबर के महीने में मोबाइल बांटना प्रारंभ कर दिया जाएगा, तैयारियां पूरी हो चुकी है.

राजस्थान की महिलाओं को मिलेगा यह अवसर

यदि आप भी राजस्थान राज्य की महिला है तो आप को सरकार मुफ्त में मोबाइल देने की तैयारी कर रही है, आपको बता दें कि सरकार की चौथी वर्षगांठ पर यह शुभ कार्य किया जाएगा.

अनुमान लगाया जा रहा है कि दिसंबर के महीने से ही मोबाइल को बांटना प्रारंभ कर दिया जाएगा.

मुख्यमंत्री डिजिटल सेवा योजना के अंतर्गत सभी महिलाओं को मुफ्त में मोबाइल प्रदान की जाएगी. जिसमें 3 साल तक मुफ्त इंटरनेट भी प्रदान किया जाएगा.

ये स्मार्टफोन बिल्कुल मुफ्त प्रदान किया जाएगा. इसके लिए किसी भी प्रकार से कोई भी शुल्क देने की आवश्यकता नहीं है.

देश की महिलाओं के लिए केंद्र सरकार की तरफ से फ्री सिलाई मशीन योजना के माध्यम से सिलाई मशीन दिया जा रहा है जिसे योग्य महिलांए प्राप्त कर सकती है और इसकी जानकरी हमने एक अलग पोस्ट में लिखी है.

चिरंजीवी परिवार को मिलेगा लाभ

अब प्रश्न यह भी उठता है कि क्या राजस्थान राज्य के प्रत्येक महिला को यह सुविधा प्रदान की जाएगी? तो हम आपको बता दें कि इसके लिए महिला का नाम 1.33 लाख चिरंजीवी परिवारों की मुखिया के स्वरूप में होना आवश्यक है.

राजस्थान सरकार के द्वारा 1.33 लाख चिरंजीवी परिवारों को इसका फायदा प्रदान किया जाएगा. जिसमें महिला भी सम्मिलित होगी।

महिला मुखिया को 3 साल तक की इंटरनेट कनेक्टिविटी के साथ-साथ मुफ्त स्मार्टफोन भी प्रदान किया जाएगा.

यदि आप भी राजस्थान राज्य की निवासी है और इसके साथ ही साथ चिरंजीवी परिवार से भी संबंधित है तो फिर आपको यह फायदा निसंदेह रूप से प्राप्त होगा.

मोबाइल के साथ 3 साल तक का डाटा मिलेगा फ्री

आप को इस बात से अवगत करवा दे कि सीएम गहलोत ने इसी साल बजट में प्रदेश की 1.33 लाख महिलाओं को स्मार्टफोन देने की घोषणा कर दी थी.

सरकार परिवारों की मुखिया महिलाओं को मोबाइल फोन प्रदान करेगी जिनके नाम जनाधार कार्ड में है, मोबाइल के साथ-साथ 3 साल तक का डाटा भी उपलब्ध कराया जाएगा वह भी बिल्कुल मुफ्त में.

जिन महिलाओं को मोबाइल प्रदान किया जाएगा उनका पूरा रिकॉर्ड सरकार के पास है. उसी रिकॉर्ड के अनुरूप ही सिम अलॉट किया जाएगा, स्मार्टफोन का डिस्ट्रीब्यूशन जिला और ब्लॉक लेवल पर ही किया जाएगा.

जिन महिलाओं का मोबाइल प्रदान किए जाएंगे उन्हें ईकेवाईसी भी करवाना आवश्यक है. आईटी विभाग इसके लिए समय और जगह निर्धारित करेंगे.

सीएम गहलोत ने बजट में घोषणा की थी

हैंडसेट के साथ-साथ 20 जीबी डाटा हर महीने 3 साल तक प्रदान किया जाएगा और लाभार्थी फोन का प्रयोग नहीं करता है, तो डाटा रिचार्ज तब तक नहीं होगा जब तक कि वह फोन का प्रयोग प्रारंभ नहीं कर देता है.

कैंप में मोबाइल फोन लेने के लिए आधार और जनाधार लिया जाएगा. इसके पश्चात हैंडसेट में सिम डाल करके उसे मौके पर ही एक्टिवेट करके लाभार्थी को दे दिया जाएगा.

कितने लोगों को दिया जाएगा फायदा?

अनुमान लगाया जा रहा है कि औसत रूप से हर ग्राम पंचायत में 750 से लेकर के 1200 लाभार्थी हो सकते हैं, कैंप में करीब 20 स्टॉल्स होंगी जिनमें एयरटेल जिओ और बीएसएनएल के कर्मचारी भी उपस्थित होंगे.

सीएम अशोक गहलोत ने बजट में घोषणा कर दी थी कि डीजल सेवा योजना में चिरंजीवी परिवारों की महिलाओं को 3 साल तक का इंटरनेट कनेक्शन बिल्कुल मुफ्त स्मार्टफोन के साथ ही प्रदान कर दिया जाएगा.

चिरंजीवी योजना में 200000 महिलाओं शामिल थी और पंजीकरण करने से अब यह संख्या 1.33 लाख में जा पहुंची है.

महिलाओं के विकास में जोर

वैसे तो महिलाओं की स्थिति हमारे देश में इतनी अच्छी नहीं है. हालांकि बहुत से क्षेत्रों में दृश्य ऐसा नहीं है, किंतु ऐसे भी क्षेत्र आज के समय में हमारे देश में मौजूद हैं, जहां पर महिलाओं का विकास नहीं हो पाया है.

सरकार‌ इन क्षेत्रों में रहने वाली महिलाओं के विकास के लिए नई-नई योजनाएं लाती रहती है, जिससे कि वे इनका फायदा उठा कर के अपने जीवन को सफल बना सके.

लेकिन हर बार ये प्रयास सफल नहीं हो पाते हैं किंतु सरकार के द्वारा ऐसी बहुत सारी योजनाएं प्रारंभ की जाती है, जिससे कि महिलाओं को फायदा प्राप्त हो और उनके विकास में भी योगदान दिया जा सके.

इससे क्या फायदा होगा?

हालांकि राजस्थान सरकार ने अपने चौथे वर्षगांठ के शुभ अवसर पर यह सुविधा लोगों तक पहुंचाने का निर्णय लिया है, किंतु इससे फायदे भी बहुत से होंगे.

बहुत सारे लोग सोचते होंगे कि भला इस योजना से क्या फायदे हो सकते हैं? तो उनको बता दे कि आज के समय में डिजिटल दुनिया के विषय में जानकारी रखना प्रत्येक व्यक्ति के लिए आवश्यक होता है.

ऐसे में जहां हमारे देश में बहुत से क्षेत्रों में महिलाओं की स्थिति दयनीय होती है. यदि उन्हें स्मार्टफोन प्रदान किया जाए तो वह धीरे-धीरे ही सही किंतु डिजिटल दुनिया को अपनी नजरों से देख सकने में सक्षम हो पाएगी.

सीखने का एक जरिया

आपको यह जानकर शायद आश्चर्य होगा किंतु हमारे देश में ऐसी मानसिकता के लोग आज भी मौजूद है जो लड़कियों और महिलाओं को घर से बाहर जाने देने की अनुमति नहीं देना पसंद करते हैं.

यदि बात उच्चतर शिक्षा या फिर किसी कोर्स को पूर्ण करने की हो तो उसके लिए बड़े-बड़े शहरों में जाकर के यूनिवर्सिटी या फिर इंस्टिट्यूट ज्वाइन करना होता है. 

जिससे कि उन्हें अधिक से अधिक जानकारी प्राप्त हो और वे अपने लक्ष्य प्राप्ति हेतु और भी ज्यादा क्रियाशील हो सके. इस स्थिति में जब उन्हें कहीं बाहर जाने की अनुमति नहीं होती है तो वह फोन और इंटरनेट के जरिए घर बैठे-बैठे ही अपनी पढ़ाई बड़े-बड़े टीचर्स के थ्रू कर सकते हैं.

आज के इस डिजिटल युग में कुछ भी असंभव सा प्रतीत नहीं होता है, गांव के किसी कोने में बैठा छात्र भी दिल्ली में पढ़ाने वाले लोकप्रिय शिक्षक से शिक्षा ग्रहण कर अपने लक्ष्य तक पहुँच सकता है.

निष्कर्ष

आज के इस आर्टिकल में हमने आप सभी लोगों के समक्ष राजस्थान सरकार के चौथे वर्षगांठ पर बांटे जाने वाले मुफ्त स्मार्टफोन के विषय में सारी आवश्यक जानकारियां उल्लेखित की है. हमें आशा है कि हमारे द्वारा उपलब्ध कराई गई ये सभी जानकारियां आपको पसंद आई होगी.

Leave a Comment

Join Telegram